Police Patrika

( पुलिस पत्रिका - गौरव तिवारी )  दिल्ली राज्य विधिक सेवाएं  प्राधिकरण की 57वीं वैधानिक बैठक में, न्यायमूर्ति विपिन सांघी, न्यायाधीश दिल्ली उच्च न्यायालय और कार्यकारी अध्यक्ष डीएसएलएसए ने प्राधिकरण के काम की सराहना की और प्राधिकरण को अच्छा काम करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया ताकि सभी के लिए न्याय तक पहुंच के उद्देश्य का प्रयास सफल हो सके । कँवल जीत अरोड़ा  सदस्य सचिव दिल्ली राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण ने जनवरी 2020 से मार्च 2021 के दौरान इसके द्वारा किए गए कार्यों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि कानूनी सेवाओं से 100028  लोग लाभान्वित हुए , विभिन्न मामलों के 2645 लोग  मुआवजा योजना से लाभान्वित हुए , 52,26,81,500/-रूपए की मुआवजा राशि पीड़ितों में  वितरित की गए ,राष्ट्रीय लोक अदालतों में 83,006 मामले  निपटाए गए,राज्य लोक अदालतों में 1,96,995  मामले  निपटाए गए ।

 

स्थायी लोक अदालतों द्वारा 19828  मामले  निपटाए गए, मध्यस्थता के माध्यम से 824 वैवाहिक मामले सुलझाए गए, पूर्व-मध्यस्थता के माध्यम से 77 वाणिज्यिक मामले निपटाए गए, 209  कानूनी जागरूकता सह कानूनी सेवा शिविर आयोजन, 6578 कानूनी साक्षरता गतिविधियां, 1022 वेबिनारों का आयोजन, दिल्ली पुलिस के लिए 82 अभिविन्यास/प्रशिक्षण कार्यक्रम,एलएसए के लिए  217अभिविन्यास/प्रशिक्षण कार्यक्रम, रेप क्राइसिस सेल, डी सीडब्ल्यू और  जेजेबी,सीडब्ल्यूसी और  दिल्ली जुडिशियल ऑफिसर्स के लिए  25 उन्मुखीकरण कार्यक्रम, 450 पैरा लीगल वालंटियर्स प्रशिक्षित, यूटीआरसी ने जमानत के लिए  2525  विचाराधीन कैदियों (यूटीपी) की सिफारिश की, 330197 व्यक्तियों को  भोजन/राशन उपलब्ध कराया  निर्माण बोर्ड में  9945  श्रमिकों को पंजीकृत करवाया, घरेलु हिंसा का सामना करने वाली 7032 महिलाओं को कानूनी सहायता प्रदान की गई  इस उल्लेखलीय रिकार्ड्स बनाने में उल्लेखनीय योगदान के लिए प्राधिकरण के सदस्य सचिव कँवल जीत अरोड़ा ने प्राधिकरण के विशेष सचिव गौतम मनन एवं अतिरिक्त सचिव नमृता अग्रवाल का भी आभार व्यक्त किया l

Leave Your Message

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).

Stay Connected

Get Newsletter

Featured News

Advertisement

भारतीय सेना

भारतीय पुलिस

अपराध

व्यापार

विशेष

राशिफल

संपादक